Thursday, August 7, 2008

मैंने तय कर लिया है किसे वोट दूँगा

पिछले दिनों विश्वास मत पर लोक सभा में जो हुआ उसके बाद मैंने एक फ़ैसला किया है। आज उस फैसले के बारे में आप सब को बताता हूँ। आप लोग चाहें तो आप भी ऐसा ही फ़ैसला कर सकते हें।

जानते तो सब थे। मानते भी सब थे। पर अपनी आंखों से देखा नहीं था। इसका फायदा उठाकर यह नेता बच जाते थे। अब जब अपनी आंखों से यह सब लोक सभा में देख लिया तो किसी शक की कोई गुंजाइश ही नहीं रही। यह नेता जो हमारे वोटों पर चुने जाते हें, अपने वोट कम-से-कम तीन करोड़ में बेचते हें. अब यह तो सरासर बेईमानी हुई कि हमारा वोट तो फ्री में ले जाओ और अपने वोट को तीन करोड़ में बेचो। अरे यह हमारा ही तो वोट है जो इन नेताओं को इस लायक बनाता है कि वह अपना वोट बेच सकें।

इस लिए मैंने फ़ैसला किया है कि जो मुझे मेरे वोट की सबसे ज्यादा कीमत देगा मैं अपना वोट उसे ही दूँगा। अमर सिंह की तरह मैं दूसरों के लिए एजेंट का काम भी करूंगा। मेरे अपने घर में ही ६ वोट हें। आप में से जो चाहें उनके लिए भी मैं भाव-ताव कर सकता हूँ।

आप सबसे प्रार्थना है कि मेरे इस संदेश को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं और भारत में प्रजातंत्र को मजबूत करें।

3 comments:

बाल किशन said...

तीखा कटाक्ष किया आपने सर.
सुंदर शैली में.
१३ वोट हमारे भी शामिल कर लीजिये.

vipinkizindagi said...

achcha....post

राजीव रंजन प्रसाद said...

दो वोट हमारे भी..सौदा तगडा करनें में सहायक होंगे...तीक्षण व्यंग्य।


***राजीव रंजन प्रसाद

www.rajeevnhpc.blogspot.com
www.kuhukakona.blogspot.com