Saturday, June 14, 2008

नेताजी उवाच


"जो कुछ अच्छा हुआ,
वह हमने किया,
जो कुछ बुरा हुआ,
वह किया अधिकारियों ने",
यह सीधी बात नहीं समझती जनता,
ख़ुद भी होती है परेशान,
हमें भी करती है परेशान.
__________________________
कुछ मत देखो,
कुछ मत सुनो,
कुछ मत कहो,
बस हमें वोट देते रहो,
भूल गए गाँधी जी ने क्या कहा था?
___________________________
हमारी सरकार करती है रोजगार,
बेचती है पानी,
अगली चीज बेचेगी सरकार,
हवा, सूरज की धूप या फूलों की खुशबू।
___________________________
हमारी सरकार मुफ्त बाँटती है नफरत,
धर्म, भाषा, जाति, प्रदेश,
फैलाओ इसे और,
सरकार के काम में हाथ बटाओ।

1 comment:

Rashmi Saurana said...

bilkul sahi likha hai aapne.